Tuesday, November 26, 2019

दांत दर्द का इलाज-दांत दर्द के घरेलू उपाय



dant dard ka ilaj in hindi

हेलो दोस्तो, मैं अमित आपका स्वागत करता हु हमारे ब्लॉग में। दोस्तो हम हर दिन आपके लिए कुछ अलग लेकर आते रहते है. और आज हम आपके लिए "dant dard ka ilaj in hindi" यह टॉपिक लेकर आए है। जो आपके लिए बोहत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होनेवाला है। दोस्तों आज के हमारा dant dard ka ilaj in hindi यह टॉपिक आपके दांतों का दर्द मिटा देगा। दोस्तो वैसे कई लोगो के दांतों में दर्द होते रहता है, तो किसी के दांतों में मसूड़ो में सूजन आ जाती है। और इसीलिए वो लोग इंटरनेट पर दांत दर्द के इलाज ढूंढ़ते है।या फिर दांत दर्द के टैबलेट को ढूंढ़ते है। या फिर dant ke keede ka ilaj, dant dard ki medicine name, dant dard ka mantra, danto me dard, दांत दर्द का मंत्र, दाढ़ दर्द का घरेलू इलाज, दांत दर्द की मेडिसिन नाम, दांत दर्द की दवा एंटीबायोटिक, दांत दर्द की दवा का नाम, दांत दर्द की अंग्रेजी दवा, दांत दर्द में तुरंत आराम, दांत दर्द के घरेलू उपाय इस तरह के टॉपिक सर्च करते है। मगर उनको कई बार मनचाहा रिजल्ट नही मिल पाता। बस इसलिए हम आपके लिये Dant Dard ka Ilaj In Hindi यह टॉपिक लेकर आए है। तो चलिए शुरू करते हैं हमारा आज का विषय "Dant Dard ka Ilaj Aur Tablet In Hindi"।


Dant Dard ka Ilaj हिंदी में जानकारी

●दांतों में अगर खड्डा गिर गया हैं तो उसमें बोहत सारे कीटाणु जमा हो जाते है क्योंकि आपके दांतों के गड्ढे में कुछ पदार्थों के कण उसमें रह जाते हैं। जिसके कारण दांत दर्द कारने लगता हैं। और मसूड़ो में सूजन आने लगती हैं। तो ऐसे में आपको क्या करना होगा इस बारे में हम आपको बताते है।

●यदि आपके दांतों में गड्डा है तो उस गड्ढे में से गंदगी निकाल दीजिए और गरम पानी से अपने मुंह में गुलगुले कर लें। इससे आपको थोड़ी बोहत राहत मिल जाएगी।

●दूसरा तरीका यह है कि आप अपने दांतों के बीच में एक लौंग को दबाकर रखें इसे अब तो थोड़ी बहुत राहत मिल जाएगी।


Dant Dard ki Tablet

वैसे देखा जाए तो कई लोग अपने दांतों के दर्द से परेशान होकर कई तरह की टैबलेट लेते हैं। लेकिन उनको मन चाहा रिजल्ट नहीं मिल पाता। और उनके दांतो का दर्द और ज्यादा बढने लगता है। तो ऐसे में हमें कौन सी टेबलेट लेनी चाहिए यह मैं आपको बताता हूं।

दोस्तों अगर घरेलू नुस्खे आजमाकर आपके दांतों का दर्द कम नहीं हो रहा है, तो आप "एस्पिरिन" की टैबलेट ले सकते हैं। इससे आपको राहत मिल जाएगी।

अगर आपके दांतो में सूजन आयी हो, तो आप पेनिसिलिन और सल्फा या फिर टेट्रासाइक्लिन के औषधि का उपयोग कर सकते हो। इससे आपको पक्का राहत मिलेगी।

इसके बावजूद भी अगर आपके दांतों का दर्द कम नही हो रहा है तो आप उस दांत को डॉक्टर के पास जाकर निकाल दीजिए। क्योंकी अगर आपके दांतों में सूजन हो तो यह सूजन और जगह पर भी असर करती है। जिससे आपको बोहत तकलीफ हो सकती है।

तो दोस्तो "Dant Dard ka Ilaj In Hindi" यह था हमारा आज का विषय। दोस्तो हमारे ब्लॉग का सिर्फ एक  उद्देश्य है कि हम दूसरों की सदैव मदत कर सके और उनको मोटिवेट करे। और उनके हेल्थ के लिए नए नए आसान से टिप्स ला सकें जिनसे लोगो का स्वास्थ्य हमेशा अच्छा बना रहे। दोस्तों अगर आपको हमारा "Dant Dard ka Ilaj In Hindi" यह पसंद आया है या आपको हमारे टिप्स को फ़ॉलो करके अच्छा रिजल्ट आया हो तो कृपया करके कमेंट करके जरूर बताइएगा।  

और अभी तक आपने हमारे mygapshup.com इस ब्लॉग को सब्सक्राइब नही किया है तो, अभी जल्दी से सब्सक्राइब कर लीजिये। ताकि हमारे आनेवाले हर नए विषय की और नए नए टिप्स की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। सब्सक्राइब करने के लिए आपके मोबाइल पर जो घंटी दिख रही है उसको दबाकर आप हमें सब्सक्राइब कर लें। या फिर आप अपना ईमेल एड्रेस टाइप कर ले और सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करके आप हमें सब्सक्राइब कर लीजिए। तो दोस्तो "Dant Dard ka Ilaj In Hindi"  इसी लेख के साथ मैं आपसे विदा लेता हूं फिर मिलेंगे एक नए आर्टिकल के साथ तब तक के लिए हंसते रहिये मुस्कुराते रहिये!

जय हिंद।

आप हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं

चेहरे से पिंपल्स हटाने का उपाय हिंदी में - Home Remedies For Pimples


Home Remedies For Pimples


हेलो दोस्तों आपका हमारे ब्लॉग mygapshup.com में फिर से एक बार स्वागत है. दोस्तों आज हम आपके लिए "चेहरे से पिंपल्स हटाने का आसान उपाय हिंदी में" लेकर आए है. दोस्तों आज हम आपके लिए चेहरे से पिंपल्स हटाने के लिए सिर्फ और सिर्फ एक आसान उपाय लेकर आए है जिससे सिर्फ एक रात में आपके चेहरे से पिंपल हट जाएगा गारंटी के साथ जी हां दोस्तों! वैसे देखा जाए तो कई लोग इंटरनेट पर पिम्पल्स हटाने के उपाय, पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय, पिंपल्स के कारण, पिंपल्स घरगुती उपाय, पिंपल हटाने का उपाय, पिंपल के दाग हटाने के उपाय, पिम्पल्स को कैसे रोके, पुराने से पुराने पिंपल हटाने के उपाय, पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय, पिंपल्स के कारण, पिम्पल्स क्रीम, pimples समाधान, पिम्पल्स के दाग, पिंपल हटाने के तरीके, कील मुंहासे हटाने के उपाय, मुहासे हटाने के उपाय ऐसे सब सर्च करते है.  

दोस्तो और तो और आप लोगों ने कई ऐसे आर्टिकल्स पढ़े होंगे या कई ऐसे वीडियोस भी देखे होंगे जिनमें आपको बताया जाता है कि रातो रात पिंपल्स हटाए या फिर 1 दिन में पिंपल्स हटाए, और आप उन उपाय को ट्राय कर लेते है लेकिन उसके बावजूद आपको मनचाहा रिजल्ट नही मिलता और वो लोग निराश हो जाते है और अपने आप से नफ़रत करने लगते है। दोस्तों हम यहां पर जो आपको उपाय बताने वाले हैं वो theoretically नहीं बताऊंगा. मैं कोई भी कोई बात theoretically नहीं करता, सिर्फ प्रैक्टिकल करता हूं. और मैं जो भी बात करता हु या जिस विषय पर भी बात करता हु उसे पहले खुद पर आजमाकर देखता हूं उसके बाद ही मैं उसे आपके साथ शेयर करता हु.  

आज जो मैं उपाय बताने जा रहा हु उस उपाय को भी मैंने खुद पर आजमा कर देखा है. मुझे भी काफी सारे पिंपल्स आते थे और मैंने भी काफी सारे उपाय किए थे, उसके बावजूद मुझे मनचाहा रिजल्ट नहीं मिला और मेरे पिंपल्स भी बढ़ने लगे थे. उसके बाद मैंने एक उपाय किया और मुझे काफी ज्यादा फर्क महसूस हुआ है. इसीलिए इस उपाय को मैं आपके साथ शेयर कर रहा हूं. तो चलिए शुरू करते हैं आज का हमारा टॉपिक चेहरे से पिंपल्स हटाने का आसान उपाय हिंदी में!


क्या चेहरे से पिंपल्स पूरी तरह हटाये जा सकते है?

दोस्तों आज अगर देखा जाए तो दुनिया की हर एक लड़की और लड़का खूबसूरत दिखना चाहता है.दुनिया की हर एक लड़की और लड़का चाहता है कि उसका चेहरा बहुत खूबसूरत हो और उसके चेहरे पर किसी भी तरह का पिंपल ना हो किसी भी तरह के दाग ना हो.उसका चेहरा नीट एंड क्लीन हो, इसके लिए वह लड़की या लड़का हर एक वो चीज ट्राय करती है जिससे वो खूबसूरत दिखने लगे लेकिन कई बार उनको मनचाहा रिजल्ट नहीं मिल पाता है और उस वजह से वो उदास होती है निराश होने लगती है. इसी उदास और निराश अपुन को दूर करने के लिए आज हम आपके लिए चेहरे से पिंपल्स हटाने का आसान उपाय हिंदी में लेकर आए है.


पिम्पल्स आने के क्या कारण होते है

दोस्तों सबसे पहले हम ये जान लेते हैं कि हमारे चेहरे पर पिंपल्स क्यों आते हैं. वैसे देखा जाए तो चेहरे पर पिंपल्स आने के कई कारण होते हैं जिनमें से मुख्य कारण यह है कि, आपकी त्वचा बेजान हो चुकी होती है और आपकी त्वचा को जरूरी पोषण नहीं मिल पाता है. इसी वजह से आपके चेहरे पर पिंपल्स आने शुरू हो जाते हैं.और अगर देखा जाए तो इसके कुछ और कारण भी हो हैं जैसे कि,  ऑयली त्वचा, बाहरी पदार्थों का सेवन करना, पेट की बीमारियां, ब्यूटी क्रीम के साइड इफेक्ट, स्किन को एलर्जी होना, हारमोंस, ऐसे बोहत से कारण होते हैं जिससे आपकी चेहरे पर पिंपल्स आ जाते हैं.


पिम्पल्स हटाने का सबसे आसान तरीका

दोस्तों अबतक मैंने बोहत बाते की पिम्पल्स क्यों आते है क्या कारणों से आते हैं लेकिन अब मैं आपको उपाय बता ही देता हूं. दोस्तो इसे जरा ध्यान से पढ़ना क्योंकी हो सकता है कि कुछ लोगो को इस बारे में पता ना हो क्योंकी ऐसा उपाय आज तक किसी ने नही बताया है जो मैं बताने जा रहा हु. तो दोस्तों उस उपाय का नाम है "गंदगुळी". जी हां दोस्तों "गंदगुळी" यह एक मराठी शब्द है जिसका हिंदी में क्या कहा जाता है मैं नही जानता लेकिन यह चीज़ आपको किराना दुकान में मिल सकती है. हालांकि अब यह चीज ज्यादातर लोग यूज नहीं करते हैं लेकिन इस चीज का बहुत बड़ा फायदा होता है. अगर आपको यह चीज कहीं मिल नहीं रही है तो आपको यह चीज मंदिरों में गारंटीड मिल सकती है या जो शाकाहारी लोग है और जो गले मे माला पहनते है उनके पास आपको यह चीज़ मिल जाएगी. क्योंकि इस चीज का इस्तेमाल भगवान की पूजा या माथे पर तिलक लगाने के लिए किया जाता है अब मैं आपको बताता हूं इसे कैसे यूज करना है!

"गंदगुळी" का इस्तेमाल पिम्पल्स हटाने के लिए कैसे करे

दोस्तों यहां पर आपको ज्यादा कुछ करना नहीं है. ये जो चीज है वह आपको आसानी से मिल सकती है अगर आप चाहो तो. या फिर आप उनसे ले सकते हो जो इसका इस्तेमाल करते हैं. यह चीज आपको अगर दुकानों मिलने जाए तो कम से कम 15 से 20 रुपये में मिल जाएगी. अब मैं आपको बताता हूं कि इसे कैसे इस्तेमाल करना है. तो सबसे पहले आप अपना चेहरा पानी से धो ले, उसके बाद अपने हथेली पर पानी की 4 से 5 बुंदे ले ले और फिर उसके बाद "गंदगुळी" को अपने हथेली पर रगड़ ले और उसके बाद आपके हाथ में जो पेस्ट हो जाएगा उस पेस्ट को अपने पिंपल्स पर लगा लीजिए. याद रखिए आपको उस पेस्ट को पूरे चेहरे पर नहीं लगाना है, आपको सिर्फ वही लगाना है जहां पर आपको पिंपल्स आए हैं. अब आपको इसे रात को लगा कर सोना है उसके बाद सुबह जब आप उठेंगे तो आपको देखने को मिलेगा कि आप के पिंपल्स काफी कम हो चुके होंगे. यदि आपको एक रात में फर्क ना दिखे तो कृपया इसे कम से कम 3/4 दिन तक ट्राय कीजिये. दोस्तों मैंने खुद किया है इसलिए मैं आपको दावे के साथ बोल रहा हु की आपको फायदा जरूर होगा!

(नोट- यदि किसी को गंदगुळी इन सब चीजों से एलर्जी है तो कृपया करके वह लोग इस चीज का प्रयोग ना करें)

तो दोस्तो आपको हमारा आज का "चेहरे से पिंपल्स हटाने का आसान उपाय हिंदी में" यह विषय कैसा लगा यह हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा। और यदि आपको इस आर्टिकल से रिलेटेड कोई भी सवाल हो तो आप हमें पूछ सकते है हम 24 घंटे के भीतर आपको जवाब दे देंगे. और अभी तक आपने हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब नही किया है तो अभी सब्सक्राइब कर लीजिये ताकि हमारे आनेवाले हर एक नए विषय की खबर हर एक नए आर्टिकल की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। तो "चेहरे से पिंपल्स हटाने का आसान उपाय हिंदी में" इसी के साथ मैं आपसे विदा लेता हूं फिर मिलेंगे एक नए आर्टिकल के साथ तब तक के लिए हंसते रहिये मुस्कुराते रहिये!
जय हिंद।




Saturday, November 9, 2019

आँखों के नीचे गड्ढे का कारण और इलाज

Ankhon Ke Niche Gadde Ka Ilaj

नमस्कार दोस्तो आज हम इस आर्टिकल में आंखों के नीचे गड्ढे का कारण और आंखों के नीचे गड्ढे का इलाज इन दोनों विषय पर विस्तार से बात करेंगे और इस प्रॉब्लम का सॉल्यूशन भी बताएंगे। हर लड़की और लड़के का सपना होता है कि वह हमेशा सुंदर दिखे खूबसूरत दिखे और कभी भी उनके आँखों के नीचे गड्ढे यानी के काले घेरे ना हो और ना ही चेहरे पर किसी भी प्रकार की झुरियां हो। लेकिन आजकल की तनाव भरी इस दुनिया मे यह एक सपना ही बनकर रह गया है। क्यूंकि कभी ना कभी हम सभी को चेहरे से जुड़े परेशानी का सामना करना ही पड़ता है।

आँखों के नीचे डार्क सर्कल होना एक आम समस्या है, जो औरत और मर्द दोनों को भी होती है। लेकिन आंखों के नीचे गड्ढे ज्यादातर औरतों में देखा जाता है। यह समस्या इतनी साधारण सी होती है कि कई लोग ज्यादातर इस समस्या की ओर ध्यान नहीं देते जिसके कारण समय के चलते उनके आंखों के नीचे काले घेरे और अधिकमात्रा में बढ़ते जाते है और उस कारण से वे लोग बदसूरत दिखने लगते है। कई बार इन काले घेरों की वजह से लोग आपको इग्नोर करते है क्योंकि चेहरे पर आंखों के नीचे गड्ढे का होना बोहत खराब दिखता है।  पहले यह समस्या 40-45 की उम्र के बाद हुआ करती थी, लेकिन अब यह समस्या किसी भी उम्र के लोगों में दिखाई दे रही है।

देखा जाए तो आंखे हमारे शरीर का सबसे सुंदर पार्ट होता है, लेकिन अगर वही आंखे बदसूरत दिखने लगे तो आपकी सुंदरता का कोई मौल नही रहता। जब भी कोई आपको देखता है तो वह सबसे पहले आपकी आंखों को देखता है और जब आपकी आंखें ही खराब हो तो आपका इम्प्रेशन बोहत बुरा पड़ता है। इसीलिए सबसे जरूरी है कि हम अपनी आंखों का अच्छे से खयाल रखें। आजकल के युग मे आंखों के नीचे गड्ढे कालापन तो आता ही रहता है, लेकिन आंखों के नीचे कालापन क्यों आता है सबसे पहले हम इसके बारे में थोड़ा विस्तार से जान लेते है।


आंखों के नीचे गड्ढे का कारण

उम्र:- वैसे आजकल देखा जाए तो साधारण 16 से 18 साल के बाद ही आंखों के नीचे कालापन आने लगता है। जो कि पहले के जमाने मे 35 से 40 साल के बाद ही आने लगता था। दोस्तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े इस आर्टिकल में आपके चेहरे से जुड़े सारी समस्याओं का निवारण दिया गया है। 

तनाव/चिंता:- दोस्तो आंखों के नीचे गड्ढे या डार्क सर्कल आने का प्रमुख कारण है तनाव और चिंता। जी हा दोस्तों शायद ही आपको पता होगा। लेकिन ज्यादातर 60% लोगो के आंखों के नीचे गड्ढे आने का यही एकमात्र कारण होता है। ज्यादातर लोग छोटी छोटी बातों से परेशान होकर चिंता करते रहते है। लेकिन शायद उन्हें पता भी नही होता कि उनके इस बर्ताव का असर उनके चेहरे पर और आंखों पर होता है। 

कंप्यूटर/मोबाइल/tv का अधिक उपयोग:- दोस्तो जैसे कि आप सभी जानते है कि आज की दुनिया यह एक डिजिटल दुनिया हो चुकी है। जहाँपर सारे कामकाज मोबाइल और कम्प्यूटर की माध्यम से किए जाते है। ऐसे में जो लोग दिनभर मोबाइल और कंप्यूटर पर काम करते है उनके आंखों पर बोहत गहरा प्रभाव पड़ता है। किसी को चश्मा लगता है तो किसी का नम्बर और भी बढ़ जाता है। और अधिकमात्रा में उपयोग करने से उनके आंखों के नीचे गड्ढे और कालापन आने लगता है। जो कि उनके चेहरे की खूबसूरती को खराब करता है। 

अधूरी नींद:- दोस्तो जैसा कि हम सभी जानते है कि इस व्यस्त भरी दुनिया मे ज्यादा समय किसी के पास नही होता। सभी लोग अपने कामकाज में इतने व्यस्त हो जाते है कि उन्हें आराम करने का भी समय नही मिलता। इंसान को जहाँ 8 घंटे की नींद की आवश्यकता होती है वहाँपर इंसान केवल 4 से 5 घंटे की नींद ले पाता है जो कि उनके स्वास्थ्य के लिए और उनकी आंखों के लिए बोहत ही हानिकारक होता हैं। 

भोजन:- आजकल इंसान सही समय पर भोजन नही करता मतलब के वो जब चाहे तब थोड़ा सा खा लेता है। उत्तम स्वास्थ्य और एक्टिव रहने के लिए सही भोजन करना आवश्यक होता है मगर इंसान इस बात को धीरे धीरे भूल रहा है। और अधूरे भोजन या फिर ऐसा वैसा कुछ भी खाने से उनके स्वास्थ्य और चेहरे पर बोहत गहरा प्रभाव पड़ता है। 

स्मोक ज्यादा करना:- जो लोग ज्यादा स्मोक करते है उनके चेहरे बोहत जल्दी खराब होते है। यू कहे तो वे लोग 20 साल के उम्र में ही 40 साल के लगने लगते है। स्मोक करने से इंसान के चेहरे पर बोहत प्रभाव होता है, उनके चेहरे पर झुर्रियां पड़ने लगती है और आंखों के नीचे गड्ढे और कालापन आने लगता है जिससे उनका चेहरा काफी अधिकमात्रा में खराब दिखने लगता है।

गर्भावस्था:- गर्भावस्था में महिला के चेहरे में अधिकमात्रा में बदलाव होता है। लेकिन यह आम बात है साथ ही गर्भावस्था में महिलाओं के आंखों के नीचे गड्ढे और कालापन अधिकमात्रा में होता है। क्योंकि ज्यादातर महिलाएं गर्भावस्था में ज्यादा थकान महसूस करते है। 

इसके अलावा आंखों के नीचे गड्ढे आने का प्रमुख कारण है प्रदुषण। किसी मेंटल परेशानी के कारणों से भी डार्क सर्कल यानी कि कालापन आ जाता है। वैसे तो आजकल मार्केट में आंखों के नीचे गड्ढे के लिए बहुत सी क्रीम मिलती है, जो डार्क सर्कल यानी के आंखों के निचे का कालापन कम करने का दावा करती है, लेकिन इन क्रीम से ज्यादातर असर नहीं होता पाता और लोग निराश हो जाते है। और जो दवा थोड़ी असरदार होती है वे बहुत महंगी होती है। और कभी कभी क्रीम में ज्यादा मात्रा में केमिकल पाए जाते है जो हमारी आँखों के लिए और चेहरे के लिए हानिकारक होता है।

कई बार इन क्रीम का नुकसान हमारे शरीर को भी भुगतना पड़ता है। और इनके अधिक मात्रा में प्रयोग करने से हमारे आँखों में जलन होने लगती है, सिर में दर्द होता है, आँख से आंसू आना जैसी शिकायत होती है| तो क्यों ना आंखों के नीचे कालेपन काले घेरों के लिए अपने घरेलु उपचार आजमाए। ये उपचार जो हम आपको बताने जा रहे है वे बोहत ही आसान है और उनका किसी भी तरह का कोई साइड इफेक्ट्स नही होता। तो अब तक हमने जाना कि आंखों के नीचे गड्ढे आने का क्या कारण होता है, अगले आर्टिकल में हम जान लेते है कि आंखों के नीचे गड्ढे का इलाज क्या है। 

तो दोस्तों यह तो हमारा आज का आर्टिकल जो हमने आपको बताया। यदि आपको इस आर्टिकल से जुड़े कोई भी सवाल हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपको 24 घंटे के भीतर जवाब देंगे और यदि आपने हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब नहीं किया है तो अभी कर ले ताकि आपको हमारे आने वाले नए-नए आर्टिकल की खबर सबसे पहले मिल सके जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

(आप हमारे प्रेरणादायक सुविचार यहाँ क्लिक करके पढ़ सकते हैं)

Friday, November 8, 2019

अगर आप भी रोजाना 2 से 3 घंटे मोबाइल यूज करते है तो यह जरूर पढ़ें

Mobile Side Effects

दोस्तो आज का हमारा टॉपिक है mobile side effect (मोबाइल के दुष्परिणाम)। दोस्तों अगर आप भी दिन में 2 से 3 घंटे तक मोबाइल का इस्तेमाल करते है तो सावधान हो जाइए। दिन में 2 से 3 घंटे तक मोबाइल का इस्तेमाल करने से आपके शरीर को अधिकमात्रा में नुकसान होता है। आज हम आपको बताएंगे कि रोजाना 2 से 3 घंटे तक मोबाइल का इस्तेमाल करने से आपको कितना नुकसान हो सकता हैं। और आपको ज्यादा मोबाइल यूज़ करने से क्या क्या mobile side effect (मोबाइल के दुष्परिणाम) हो सकते हैं। और हम आज आपको इस आर्टिकल में यह भी बताएंगे कि आपके बॉडी में क्या क्या साइड इफेक्ट्स हुए है जो आपको नज़र नही आये। तो चलिए सबसे पहले हम यह जान लेते है कि Mobile Addition क्या होता है। और उससे हमे क्या हानि होती हैं। और हमे इस हानि से बचने के लिए क्या क्या करना होगा। तो चलिए आज का हमारा विषय शुरू करते है। mobile side effect (मोबाइल के दुष्परिणाम).

Mobile Addiction

दोस्तो, आजकल दुनिया मे सभी लोग मोबाइल टूल का इस्तेमाल करते है। चाहे वो छोटा हो या बड़ा सारे लोग मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। वैसे देखा जाये तो मोबाईल टूल का उपयोग बोहत अधिकमात्रा में किया जाता है। कई लोग मोबाइल टूल का उपयोग गलत कामो के लिए करते है तो कई लोग नार्मल timepass के लिए करते है। लेकिन आजकल मोबाइल टूल एक एडिक्शन के रूप में हो गया है। यदि आप जानना चाहते है कि Mobile Addiction क्या है तो यह आर्टिकल पूरा पढिये ताकि आपको समझ मे आ जाए कि मोबाइल का उपयोग कैसे करे और कितनी देर तक करे। 

What Is Mobile Addition

दोस्तों, यहा पर मैं आपको कुछ ऐसी बाते कहूंगा जिससे आपको आसानी से पता चल जाएगा कि Mobile Addiction किसे कहते है। मान लीजिए कि एक व्यक्ति जो मोबाइल का उपयोग करता है। वो व्यक्ति अगर खुद को थोड़ी देर तक ही सही अपने मोबाइल को दूर नही रख सकता तो इसका मतलब है वो Mobile Addiction का शिकार हो गया है। कोई कोई व्यक्ति ऐसे होते है जो भोजन करते वक्त मोबाइल को अपने हाथ मे रखते है। और social media पर बिना मतलब के कुछ न कुछ करते रहते है। तो इसे भी Mobile Addition कहा जाता है। 

अक्सर आपमें से कई लोग ऐसे होंगे जिनको मोबाइल के बिना चैन नही आता हो। कई लोग हर 5 मिनट बाद अपना मोबाइल फोन देखने लगते है कि कही कोई msg आया हो या फिर सोशल मीडिया पर मुझे कितने लाइक्स मिले या comments। उन लोगो को जब तक मोबाइल देख ना ले तब तक चैन ही नही पड़ता। और कई लोग मोबाइल के इतने आधीन हो जाते है कि अगर मोबाइल चार्जिंग पर भी लगाया हो तो वो चार्जिंग के पास बैठकर मोबाइल का यूज़ करते है। इन सभी परिस्थितियों को Mobile Addition कहा जाता हैं। 

कई बार ऐसे भी लोग होते है जो अपना अधिकतर समय मोबाइल पर बिताते है। लेकिन वो लोग अपना काम करने के इरादे से अपना ज्यादातर समय मोबाइल पर बिताते है उन्हें Mobile Addition नही कहा जा सकता। क्यों नही कहा जा सकता, क्योंकि वे मोबाइल टूल का उपयोग सिर्फ काम करने के लिए ही इस्तेमाल करते है इसीलिए उन्हें Mobile Addition नही कहा जाता। हा ऐसे लोग कई बार सोशल मीडिया पर ऐक्टिव होते है लेकिन बोहत कम समय के लिए एक्टिव होते है। तो अब हम आपको बताते है कि मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल करने से आपको क्या हानि पोहचती है। 

Mobile side Effect In Hindi

●यदि आप ज्यादा मात्रा में मोबाइल का इस्तेमाल करते है तो आपके दोनों कंधे ब्लॉक होने की संभावना होती है। 

●यदि आप जानना चाहते है कि आपकी बॉडी में क्या side effect हुआ है तो खड़े होकर अपने दोनों हाथों को पीछे की तरफ लेकर एक मिनट तक लॉक करके देख लीजिए। आपको पता चल जाएगा की ज्यादा मात्रा में मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने से आपकी बॉडी धीरे धीरे लॉक होती जा रही है। 

●ज्यादा मात्रा में मोबाइल का इस्तेमाल करने से आपके Brain पर काफी बुरा असर पड़ता हैं। सरल भाषा मे कहे तो अधिकमात्रा में मोबाइल फोन इस्तेमाल करने से आपकी स्मरण शक्ति पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं। 

●कई बार कुछ मोबाइल फोन के रेडिएशन अधिकमात्रा में होते है तो उस समय उस रेडिएशन की वजह से आपके बॉडी और दिमाग पर बोहत गहरा परिणाम होता है।

●यदी आप मोबाइल को चार्जिंग पर लगाकर इस्तेमाल करते है तो उस समय आपको ज्यादा खतरा हो सकता है। इसीलिए जब भी आपका मोबाइल चार्जिंग पर हो तब मोबाइल फोन का इस्तेमाल ना करे। 

●मोबाइल की बैटरी कम हो तब मोबाइल पर बात ना करे। क्योंकि जब भी मोबाइल की बैटरी कम होती है तब उस समय काफी मात्रा में रेडिएशन निकलने की संभावना रहती हैं। 

●सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कई लोगो को रात को सोने के समय मोबाइल को सिरहाने रखने की आदत होती है। लेकिन ऐसी आदत से आपके जान को नुकसान होने की ज्यादा संभावना होती है। क्योंकि रात के समय भी रेडिएशन अधिकमात्रा में निकलने की संभावना होती है। 

●कई लोग अपना मोबाइल फोन शर्ट के जेब मे रखते है जो बिलकुल धड़कन के करीब होता है। तो यहां पर भी आपको मोबाइल से हानि होने की अधिकमात्रा में संभावना होती है। इसीलिए अपना मोबाइल फोन पैंट की जेब में रखे या फिर मोबाइल का अलग कवर आता है उसमें रखकर आप मोबाइल से होनेवाली हानियों से बच सकते हैं।

●आजकल टेक्नोलॉजी की वजह से सबकुछ आसान हो गया है। लेकिन इसी टेक्नोलॉजी की वजह से लोग आलसी होते जा रहे है। जहाँ पर कभी कभी हम होटल में खाना खाने के लिए बाहर जाया करते थे वही आज कई लोग मोबाइल पर ही खाने का आर्डर करते है। तो इसी वजह से लोग अक्सर आलसी बनते जा रहे है। 

दोस्तो, "mobile side effect" (मोबाइल के दुष्परिणाम) यह था आज का हमारा विषय। अंत मे मैं यही कहना चाहूंगा कि जितना हो सकता हैं उतना मोबाइल का इस्तेमाल कम करें। ताकि आप मोबाइल से होनेवाली हानियों से खुद को बचा सके। तो आज का यही आर्टिकल था। अगर आपको "mobile side effect" (मोबाइल के दुष्परिणाम) यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो कृपया "mobile side effect" (मोबाइल के दुष्परिणाम) इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे। ताकी बाकी लोगो को भी इसका फायदा हो सके और वे भी मोबाइल से होनेवाली हानियों से बच सके। 

दोस्तो, (mobile side effect) इसी आर्टिकल के साथ हम आपसे विदा लेते है फिर मिलेंगे एक नए विषय के साथ। तब तक के लिए हंसते रहिये हंसाते रहिये और हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे। ताकि हमारे आनेवाले हर एक विषय की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। सब्सक्राइब करने के लिए अपने ईमेल एड्रेस को टाइप करें और सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करे। या फिर आप बेल आइकॉन को दबाकर हमारे लेटेस्ट खबरे प्राप्त कर सकते हैं। 

जय हिंद।

मात्र 2 हप्ते में फिगर मेंटेन करे | फिगर मेंटेन करने के उपाय |

How To Maintain Figure

हेलो आपका हमारे ब्लॉग में फिर से स्वागत है दोस्तो आज हम आपके लिए फिगर मेंटेन करने के उपाय हिंदी में लेकर आए है। जिससे आपको अपना फिगर मेंटेन रखने में काफी फायदा होगा। दोस्तों आजकल दुनिया में कई लड़कियां अपना फिगर मेंटेन रखने के लिए इंटरनेट पर कई सारे उपाय को सर्च करती है जैसे कि,जीरो फिगर कैसे बनाये, फिगर बनाना, फिगर मेन्टेन टिप्स, फिगर मेंटेन करने के उपाय, फिगर को मेंटेन कैसे रखे, figure kaise banaye, zero figure diet tips in hindi, how to get perfect figure 36 24 36 in hindi, o size figure tips in hindi, best figure tips in hindi, zero figure kise kehte
 
 इसीलिए आज हम आपके लिए एक ऐसा विषय लेकर आए हैं जिससे आपका फिगर जो है मेंटेन हो सके और आपका फिगर मेंटेन करने में काफी सहायता आपको मिल सके। तो चलिए शुरू करते है आज का हमारा विषय "फिगर मेंटेन करने के उपाय हिंदी में"।

दोस्तों देखा जाए तो आजकल हर एक लड़की चाहती है कि वह सुंदर दिखे और सब को आकर्षित लगे। हर एक लड़की चाहती है कि उसकी शरीररचना बोहत ही आकर्षक हो।वैसे दोस्तों देखा जाए तो आजकल हर एक लड़की अपनी फिगर को मेंटेन रखना चाहती हैं। और वह अपने फिगर को मेंटेन रखने के लिए हर वो नामुमकिन कोशिश करती है जिससे उसका फिगर जो है वो मेंटेन रहे। जैसे कि कोई लड़की अपना फिगर मेंटेन रखने के लिए जिम जॉइन करती है। और भी तरह-तरह के योगा क्लास को अटेंड करती है और न जाने कई तरह के उपाय करती है जिससे उसका फिगर जो है वह मेंटेन है लेकिन यहां पर उनको मनचाहा रिजल्ट ना मिलने के कारण वह सब उपाय बंद कर देती है जो पहले करती थी। कभी-कभी यही एक कारण होता है कि लड़की का फिगर मेंटेन नहीं होता क्योंकि और बीच में ही सारे उपाय करना बंद कर देती है।दोस्तों आज मैं आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहा हूं जिससे आपका फिगर जो है वह काफी मेंटेन रहे और काफी आकर्षक दिखें तो चलिए शुरू करते हैं।



फिगर मेंटेन रखने के उपाय हिंदी में जानकारी


  १.दोस्तों में फिगर मेंटेन रखने के उपाय शुरू करने से पहले आपसे सिर्फ एक बात कहना चाहूंगा कि आप को थोड़ा सा तो धीरज रखना ही पड़ेगा। आपको थोड़ा सब्र करना पड़ेगा इसके बाद ही आपको रिजल्ट देखने को मिल सकता है। 

 
 २.आज देखा जाए तो फिगर को मेंटेन रखने के लिए ग्रीन टी काफी फायदेमंद होती है। और काफी लोग इसे पीना शुरू कर देते हैं लेकिन कुछ देर के बाद मनचाहा रिजल्ट ना मिलने के कारण ग्रीन टी पीना बंद कर देते हैं। तो ऐसा ना करें अगर आप बीच में ही ग्रीन टी पीना बंद करोगे तो आप की हालत वैसी हो जाएगी जैसे पहली थी। इसलिए आप अगर ग्रीन टी पी रहे हो तो आप उसे बंद मत करिए उसे चालू ही रखिए।

 
 ३.अगर आप ग्रीन टी पी रहे हो तो इसका मतलब यह नहीं कि ग्रीन टी पीने से ही आपका फिगर जो है वह मेंटेन रहेगा। ग्रीन टी पीने के साथ-साथ आपको थोड़े बहुत व्यायाम की भी जरूरत रहेगी। आप ग्रीन टी पीने के साथ-साथ योगा भी कर सकते हैं जिससे आपके फिगर को मेंटेन रहने में काफी सारी मदद मिलेगी।

 
 ४.अपने फिगर को मेंटेन रखने के लिए सुबह जल्दी उठने की आदत डाल लीजिए। चाहे आप की लाइफ कितनी ही बिजी क्यों ना हो आपको सुबह जल्दी उठकर थोड़ा बहुत walking करना चाहिए। जिससे आपका फिगर मेंटेन रहने में काफी सहायता हो सकती है।

 
 ५.घी से भरे पदार्थ यानी कि तले हुए पदार्थ का सेवन करना बंद करिए इससे आपके फिगर को मेंटेन रहने में भी सहायता हो सकती है।

 
 ६.आप अपने भोजन में ज्यादातर उन पदार्थों की मात्रा ज्यादा रखिए जिन में प्रोटीन की मात्रा अधिकतम होती है इससे आपके फिगर को मेंटेन रहने में सहायता होगी।

 
 ७.आपको दिन में कम से कम एक आंवला तो खाना ही है। जिससे आपके शरीर को काफी फायदा हो सके आंवले में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है। आंवला खाने के फायदे जानने के लिए यहां क्लिक करें।

 
 ८.आजकल काफी सारे फ्रूट जूस मिलते हैं जिससे आपके शरीर को काफी सारा फायदा हो सकता है। तो आप भी फ्रूट जूस पीना शुरू करें फ्रूट जूस पीने से आपके फिगर मेंटेन रहने में सहायता मिलेगी।

 
 ९.अगर मेरे निजी अनुभव के बारे में बात करूं तो आप का ज्यादातर वजन चलने से कम होता है। तो याद रखिए जितना आप चलेंगे उतना ही आपके फिगर मेंटेन रखने के लिए फायदा होगा। तो जितना हो सके उतना चलने की कोशिश करिए।

 
 १०.आपके शरीर में पानी की मात्रा कम नहीं होनी चाहिए। आप जितना हो सके उतना अपने शरीर में पानी की मात्रा बढ़ाएं। इससे आपके शरीर को फ्रेश रहने में मदद हो सकती है।

 
 ११.इंसान की लाइफ कितनी बिजी हो गई है कि उसको मनचाही नींद नहीं मिल पाती। इसका पूरा असर उसके शरीर पर पड़ता है। तो आपको ऐसा नहीं करना है आपको समय निकालकर नींद पूरी करनी होगी। अगर आपकी नींद पूरी हो जाएगी तो आपके शरीर को ही फायदा होगा।

 
 १२.बाहरी पदार्थों का सेवन ना करें। अगर आप बाहरी पदार्थों का सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर को नुकसान हो सकता है। क्योंकि बाहरी पदार्थों के सेवन करने से काफी सारे बैक्टीरिया आपके शरीर में जा सकते हैं। क्योंकि बाहरी पदार्थ ज्यादातर खुले में रखी जाती है और उन पर काफी सारी मक्खियां बैठती है जिससे वह पदार्थ खराब हो जाता है। और उसे खाने से आपके शरीर को काफी नुकसान हो जाता है। तो ज्यादातर बाहर ही पदार्थों को खाना नहीं है।

 
 १३.अगर आप हमारे इन कुछ टिप्स को 1 महीने तक भी फॉलो कर ले तो आपको थोड़े ही दिनों में रिजल्ट देखने को मिलेगा। और एक बात जरूर याद रखिए आपको थोड़ा तो सब्र करना ही होगा। अगर आप चाहते हैं कि आज आपने उपाय शुरू किए और दो-तीन दिन में आपको रिजल्ट मिले तो ऐसा नहीं होगा आपको थोड़ा इंतजार करना होगा।

 
 तो दोस्तो आपको हमारा आज का "फिगर मेंटेन करने के उपाय हिंदी में" यह विषय कैसा लगा यह हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा। और अभी तक आपने हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब नही किया है तो अभी सब्सक्राइब कर लीजिये ताकि हमारे आनेवाले हर एक नए विषय की खबर हर एक नए आर्टिकल की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। तो "फिगर मेंटेन करने के उपाय हिंदी में" इसी के साथ मैं आपसे विदा लेता हूं फिर मिलेंगे एक नए आर्टिकल के साथ तब तक के लिए हंसते रहिये मुस्कुराते रहिये और बने रहिये हमारे साथ mygapshup.com पर।
जय हिंद।

Thursday, November 7, 2019

स्तन कैंसर को कैसे पहचाने || स्तन कैंसर के लक्षण ||

Breast Cancer Awareness In India

Breast Cancer Awareness In India

हेलो दोस्तो मैं आपका स्वागत करता हु हमारे ब्लॉग mygapshup.com में. दोस्तो हम हर रोज़ आपके लिए कुछ नया लेकर आते रहते है. और आज हम आपके लिए Breast Cancer Awareness In India यह टॉपिक लेकर आए है। जो बोहत ही गंभीर है।  दोस्तों कई लोग Breast Cancer के बारे में इंटरनेट पर breast cancer causes, Breast Cancer Awareness, what is breast cancer, breast cancer information, breast cancer ngo india, breast cancer types इस तरह के टॉपिक सर्च करते है ताकि उनको Brest Cancer के बारे में सही इंफॉर्मेशन मिले। तो बस इसलिए हम आपके लिए Breast Cancer Awareness In India यह टॉपिक लेकर आए है। जो एक गंभीर बीमारी हो गई है और लोगो को जागरूक करना हमारा फर्ज है इसलिए हम यह टॉपिक लेकर आए है। दोस्तो मैं आपको ब्रेस्ट कैंसर के बारे में कुछ जानकारी देना चाहता हु। ताकि आप लोगो को पता चलने में आसानी हो। कि आखिर यह ब्रेस्ट कैंसर होता क्या है? और कैसे होता है। तो चलिए शुरू करते है आज का विषय Breast Cancer Awareness In India

Breast Cancer Awareness In India

दोस्तो हमारे देश में Breast Cancer एक बोहत ही गंभीर बीमारी के रूप उबरकर आ रही है। देखा जाए तो पिछले कुछ सालों में Breast Cancer का खतरा दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है। एक सर्वे हुआ था और उस सर्वे के अनुसार २०१५ में १ लाख ५० हजार Breast Cancer के नए नए केस सामने आये थे। जिसमें से ७६ हजार महिलाएं उस समय में जब डॉक्टर के पास पहुंची थी, तब उन महिलाओं की स्थिति काफी बिगड़ चुकी थी और उन महिलाओं को बचाना लगभग बोहत ही मुश्किल था।डॉक्टर्स का कहना हैं कि अगर आपकी फैमिली में किसी व्यक्ति को ब्रैस्ट कैंसर हुआ था, मतलब की अगर आपकी फैमिली हिस्ट्री है तो आपको भी कम से कम 20 साल की उम्र में एक बार तो जांच करा लेनी चाहिए। लगभग ४० साल की उम्र में एक मेमोग्राम करा लेना चाहिए। 

एक सर्वे हुआ था तो उस सर्वे के अनुसार भारत में २०१३ में ४७,५७८ महिलाओं की डेथ सिर्फ Breast Cancer से हो गई थी। और हर साल इसमें बढ़ोतरी हो रही है। डॉक्टर्स का यह कहना है कि इन दिनों महिला वर्ग में कैंसर में सबसे ज्यादा Breast Cancer के ही केस देखने को मिलते हैं। Breast Cancer के केस में ज्यादातर महिलाओं को तब पता चलता है जब उनकी स्थिति बोहत बिगड़ जाती है। Breast Cancer का सही समय पर पता चलना बोहत ही जरूरी है। हर साल भारत में लगभग १.५ लाख कैंसर के नए केसेस सामने आ रहे हैं, तकरीबन १ लाख महिलाओं में से रोजाना ३२ महिलाए Breast Cancer का शिकार हो रही हैं। खास इसलिए हमने आज के हमारे आर्टिकल में (Symptoms Of Breast Cancer) ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों को बताया है । Breast Cancer जैसी बीमारी से बचने का सबसे पहला स्टेप है Breast Cancer कि जांच। 

Symptoms Of Breast Cancer (स्तन कैंसर के लक्षण)

●स्तन कैंसर का प्रमुख लक्षण है स्तन (Breast) में सूजन होना।

●स्तन कैंसर का दूसरा प्रमुख लक्षण है, स्तन में किसी भी प्रकार की गांठ या फिर किसी भी तरह का कोई परिवर्तन होना।

●स्तन कैंसर का तीसरा प्रमुख कारण है, स्तन के आकार में किसी भी तरह का परिवर्तन होना।

●स्तन कैंसर का चौथा प्रमुख कारण है, स्तन से डिस्चार्ज होना।

●स्तन कैंसर का पांचवा प्रमुख कारण है, स्तन की त्वचा के रंग में बदलाव होना, हल्का गुलाबी होना।

●स्तन कैंसर का छठवा प्रमुख कारण है, स्तन में किसी भी तरह किसी भी प्रकार का कोई फुंसी या चकता होना।

●स्तन कैंसर का सांतवा प्रमुख कारण है, स्तन के तापमान में बढ़ोतरी होना।

●स्तन कैंसर का आंठवा प्रमुख कारण है, स्तन में दर्द होना। 

यह थे (symptoms of breast cancer) स्तन कैंसर के प्रमुख लक्षण

How To Check Breast Cancer

Breast Cancer से बचने के लिए समय पर इसकी जाँच कर लेना बोहत ही जरूरी है। Breast Cancer की जाँच आप खुद भी घर पर कर सकते हैं या फिर डॉक्टर के पास जाकर भी कर सकते हैं। अपने मासिक के चौथे या तो पांचवें दिन आप अपने आप को स्क्रीन कर सकते हैं। आप अपने स्तनों के चारों तरफ छू कर देख लीजिए कि कहीं कोई गाँठ है या नही। या कही कोई परिवर्तन हो रहा है या नही। अगर ऐसा कुछ हो रहा है तो देर न करते हुए तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए।इसके अलावा आप हर तीन चार साल में डॉ के पास जाकर स्तन कैंसर की जाँच जरूर करवाएं।

हमारे देश मे कई बार हर प्रकार की बीमारियों पर आयुर्वेदिक उपचार यानी के घरेलू नुस्खे आजमाए जाते है, लेकिन यहां पर स्तन कैंसर इस बीमारी से सम्बंधित किसी भी प्रकार की सलाह को डॉक्टर से पूछे बिना कभी भी नही अपनाएं। दूसरी महत्वपूर्ण बात यदि किसी स्त्री को बच्चा होने के बाद ठीक से दूध नहीं आ रहा है, तो वो तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें  क्योंकि सही से फीडिंग ना होने पर मां को आगे कैंसर का खतरा बने रहने की संभावना होती है।


तो दोस्तो आपको हमारा आज का "Breast Cancer Awareness In India" यह विषय कैसा लगा यह हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा। और हमारा यह विषय पर लेख लिखने का सिर्फ यही एक कारण है कि हम आप सबको जागरूक कराए। हम आपके हित के लिए "Breast Cancer Awareness" यह आर्टिकल लेकर आए थे। इस आर्टिकल को इतना शेयर कीजिए कि सबको Breast Cancer के बारे में पता चले और ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिले। और अभी तक आपने इस ब्लॉग mygapshup.com को सब्सक्राइब नही किया है तो अभी सब्सक्राइब कर लीजिये। ताकि हमारे आनेवाले हर नए विषय की खबर हर नए लेख की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। सब्सक्राइब करने के लिए आपके मोबाइल पर जो घंटी दिख रही है। उसको दबाकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते हैं। या फिर अपना ईमेल एड्रेस टाइप करके सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करके आप हमें सब्सक्राइब कर सकते हैं। तो दोस्तो "Breast Cancer Awareness In India" इसी के साथ मैं आपसे विदा लेता हूं फिर मिलेंगे एक नए आर्टिकल के साथ तब तक के लिए हंसते रहिये मुस्कुराते रहिये!
जय हिंद।

डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय || काले घेरे कैसे हटाएं || आयुर्वेदिक उपाय

डार्क सर्कल हटाने के घरेलू उपाय

नमस्कार दोस्तो, आज हम इस आर्टिकल में डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय इस विषय पर विस्तार से बात करेंगे और इस प्रॉब्लम का सॉल्यूशन भी बताएंगे। हर लड़की का सपना होता है कि वह हमेशा सुंदर दिखे खूबसूरत दिखे और कभी भी उनके आँखों के नीचे काले घेरे ना हो और ना ही चेहरे पर किसी भी प्रकार की झुरियां हो। लेकिन आजकल की चिंताजनक भरी इस दुनिया मे यह सिर्फ एक सपना ही बनकर रह गया है।

क्यूंकि कभी ना कभी हम सभी को हमारे चेहरे से जुड़े परेशानी का सामना करना ही पड़ता है। मगर आजकल ज्यादातर डार्क सर्कल्स की समस्या बोहत दिखाई दे रही है। दोस्तो हमने आंखों के नीचे डार्क सर्कल क्यों होते है इसके बारे में एक अलग आर्टिकल विस्तार से लिखा है। यदि आप चाहे तो उस आर्टिकल को आप पढ़ सकते है। चलिये अब हम बात करते है हमारे आज के विषय के बारे में जो डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय है। 

डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय हिंदी में

बादाम तेल (Almond Oil):-  बादाम का तेल आंखों के नीचे गड्ढे का इलाज के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है| बादाम के तेल में विटामिन E होता है जो dark circles कम करने में बोहत ही लाभदायक साबित होता है। 

बादाम के तेल का उपयोग कैसे करें:-
रात को सोने से पहले बादाम की तेल को अपने उंगलियों पर ले और अपनी आंखों के पास हल्के से मालिश करें। मालिश करने के बाद रात भर ऐसे ही रहने दे और अगले दिन स्वच्छ पानी से उसे धो लें। याद रखिए जब तक आपके आंखों के नीचे का कालापन दूर नही होता तब तक आपको हर रोज ऐसा करना है। इससे थोड़े दिनों में ही आपके आंखों के नीचे का कालापन कम हो जाएंगा। 

आलू:- जैसा कि आप सब लोग जानते हैं की आलू एक नेचुरल ब्लीच होता है जो की आंखों के काले घेरे को हटाने में काफी मददगार साबित होता हैं। आलू इतना फायदेमंद होता है कि उससे आपके आँखों के पास की सुजन को भी दूर कर सकता है। डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय। 

आलू का उपयोग कैसे करें:-
आलू का उपयोग करने के लिए आपको एक या दो आलू को पीस कर उसका रस निकालना होगा। उसके बाद कॉटन में इस रस को लगाए और कॉटन को अपनी आंखों के नीचे हल्के से मालिश करें या फिर आंखों पर रख ले। इस आलू के रस को अपनी आंखों पर 10 से 15 मिनट तक रखें और उसके बाद शुद्ध पानी से धो ले। यह नुस्खा आपको हफ्ते में दो या तीन बार करना होगा। यदि आप ऐसा करने में असमर्थ है तो आप आलू के कुछ मोटे स्लाइस काटकर अपनी आंखों पर घिस सकते हैं या फिर 10 से 15 मिनट अपनी आंखों पर रहने दे। और उसके बाद अपनी आंखों को शुद्ध पानी से धो लें।

गुलाब जल:- दोस्तों गुलाब जल को तो आप जानते ही होंगे। गुलाब जल त्वचा के लिए बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। गुलाब जल हमारे चेहरे से गंदगी निकाल कर उसे रिफ्रेश करता है और सॉफ्ट करता है। त्वचा के लिए गुलाब जल एक वरदान माना गया है। 
गुलाब जल का उपयोग कैसे करें:-
कॉटन के कपड़े में थोड़ा सा गुलाब जल ले और उसके बाद अपनी आंखों के ऊपर रख ले। और फिर 15 मिनट के लिए आराम से बैठ जाए और फिर इसे अलग करें। और पानी से धो लें ऐसा करने से आपके आंखों के नीचे गड्ढे और कालेपन को दूर होने में काफी सहायता मिलेगी। यदि आप इसे हर रोज करते हैं तो आपको बहुत ही अच्छा परिणाम देखने को मिलेगा।

ककड़ी:- ककड़ी जो कि एक mild astrigent है, और यह हमारी स्किन के कलर को लाइट करने का काम करती है। यह आँखों के नीचे गड्ढे कालापन दूर करने में काफी मददगार साबित होती है। और साथ ही साथ आंखों को ठंडक देती है जिससे हमारी आंखों को काफी आराम मिलता है।

ककड़ी का उपयोग कैसे करें:-
सबसे पहले तो ककड़ी के मोटे मोटे स्लाइस काटकर ले  और इसे 30 min के लिए फ्रीज़र में रख दीजिए। अब आपको इन स्लाइस को अपनी आँखों के उपर रखकर कम से कम 10 से 15 min तक रखना है। इसके बाद अपनी आंखों को स्वच्छ पानी से साफ कर ले। यदि आप इस नुस्खे को हफ्ते में दो से तीन बार आजमाते हैं तो आपको काफी अधिक मात्रा में अच्छा परिणाम देखने को मिल सकता है।

यदि आप ऐसा करने में असमर्थ होते हैं तो आप पकड़ी और नींबू के रस को बराबर की मात्रा में मिलाकर उसे कॉटन की मदद से काले घेरे में लगा सकते हैं। और फिर 10 मिनट के बाद उसे साफ पानी से धो ले। याद रखिए यह नुस्खा आपको एक हप्ताह करना है जिससे आपको बोहत जल्द अच्छा परिणाम देखने मिल जाएगा।

टमाटर:- दोस्तों जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि टमाटर एक नेचुरल ब्लीच है जो की स्किन लाइट करने में बोहत मदतगार साबित होता है। और काले घेरे दाग धब्बे आंखों के नीचे गड्ढे को भी मिटाता है। 

टमाटर का उपयोग कैसे करें:-
सबसे पहले एक चम्मच टमाटर का रस ले और उसमें आधा चम्मच नींबू का रस मिलाएं। और इसे अपनी आंखों के नीचे काले घेरों पर लगाए। और कम से कम 10 मिनट के बाद अपना चेहरा स्वच्छ पानी से धो ले। यदि आप दिन में ऐसा दो बार करते हैं तो आपको काफी असर देखने को मिल जाएगा। एक और बात याद रखें आप जितना हो सके उतना ज्यादा टमाटर खाइए क्योंकि यह स्किन के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

नीम्बू:- दोस्तों जैसा कि सभी लोग जानते हैं कि नीम्बू में विटामिन "C" पाया जाता है जो स्किन के लिए बोहत ही लाभदायक होता है। नींबू का उपयोग आंखों के नीचे गड्ढे  डार्क सर्कल दूर करने में भी होता है।

नींबू का उपयोग कैसे करें:-
नींबू के रस को कॉटन की मदद से अपनी आंखों के नीचे काले घेरो पर लगाए। और फिर 10 मिनट के बाद इसे स्वच्छ पानी से साफ कर ले ऐसा आपको कुछ हफ्ते करना होगा। इससे आपको काफी अच्छा परिणाम देखने को मिल जाएगा।

दोस्तों अब तक हमने जाना है कि आंखों के नीचे गड्ढे आने के क्या कारण होते हैं। और आंखों के नीचे गड्ढे का इलाज क्या होता है। अब हम अगले आर्टिकल में जान लेते हैं कि आंखों के नीचे गड्ढे आने से कैसे रोके

तो दोस्तों डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय यह था हमारा आज का आर्टिकल जो हमने आपको बताया। यदि आपको डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय इस आर्टिकल से जुड़े कोई भी सवाल हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपको 24 घंटे के भीतर जवाब देंगे और यदि आपने हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब नहीं किया है तो अभी कर ले ताकि आपको हमारे आने वाले नए-नए आर्टिकल की खबर सबसे पहले मिल सके जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। डार्क सर्कल हटाने का घरेलू उपाय को पढ़ने के लिए धन्यवाद। 

काले घेरे हटाने क्रीम || डार्क सर्कल हटाने की क्रीम ||

Dark Circle Removal Cream 

Dark Circle Removal Cream

नमस्कार दोस्तों मैं आपका फिर से एक बार स्वागत करता हूं हमारे ब्लॉग में आज का हमारा टॉपिक है काले घेरे हटाने क्रीम। दोस्तो सबसे पहले मैं आपको सिर्फ इतना कहना चाहता हूं की शुरू से लेकर आखिर तक जरूर पढ़िए। क्योंकि इस आर्टिकल में आपके सारे सवालों के जवाब मिल जाएंगे। दोस्तों मुझे कई लोगों ने कमेंट करके कहा था और E-mail भी किया था कि, काले घेरे हटाने क्रीम के लिए कोई उपाय बताइए। और डार्क सर्कल्स हटाने का कोई आसान उपाय बताइए, या कोई क्रीम बताइए या फिर कोई ऐसा फेस वॉश होगा उसका नाम बताइए। तो इस वजह से मैं आज का यह आर्टिकल लेकर आया हूं जिसमें आपके सारे सवालों के जवाब मिल जाएंगे। 

दोस्तो इसमें मैं सिर्फ काले घेरे हटाने क्रीम के बारे में नहीं बताऊंगा बल्कि आपको कुछ ऐसे उपाय भी बताऊंगा जिसकी मदद से आप के आँखो के नीचे काले घेरे आसानी से हट सकते हैं। फिर चाहे वो किसी भी प्रकार के हो पिम्पल्स हो या काले घेरे हो या फिर आपकी आंखों का धसना हो। सारे सवालों के जवाब आपको इसी आर्टिकल में मिल जाएंगे इस आर्टिकल में हमने कुछ ऐसे आर्टिकल्स की लिंक दे दी है जिसकी मदद से आप अपने पिंपल्स को आसानी से हटा सकते हैं। डार्क सर्कल्स हो या आंखों का धसना हो सारे सवालों के लिए हमने इस आर्टिकल में लिंक दे दी है।

आप जैसे जैसे इस आर्टिकल को पढ़ेंगे वैसे वैसे आपको उन आर्टिकल्स की लिंक मिलती जाएगी। इस लिंक का देने का उद्देश्य सिर्फ यही है कि जिस का जो भी प्रॉब्लम है वह इंसान उस आर्टिकल को जाकर पढ़ सकें। फिलहाल हम आज की बात करते हैं काले घेरे हटाने क्रीम के बारे में। दोस्तों सबसे पहले मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि यह कई Paid प्रमोशन नहीं है। हम सिर्फ इस आर्टिकल में इस क्रीम के बारे में Review दे रहे हैं। 

दोस्तों वैसे तो दुनिया में सभी लोग खूबसूरत दिखना चाहते हैं। चाहे वह लड़का हो या लड़की, पुरुष हो या औरत, चाहे उम्र कोई भी हो। हर कोई अपना चेहरा खूबसूरत दिखने की उम्मीद रखता है। और उसके लिए वह ढेर सारे उपाय ट्राय करता है। मार्केट से कॉस्मेटिक क्रीम लाना या फिर कोई आयुर्वेदिक क्रीम लाना कई सारे उपाय वह करता है। लेकिन फिर भी उसको मनचाहा रिजल्ट नहीं मिल पाता।

दोस्तों हमारे आर्टिकल्स में हमने जो भी उपाय बताए हैं जैसे भी उपाय, वह सब उपाय हमने पहले दो-तीन लोगों पर आजमायें हैं और उसके बाद ही हमने आर्टिकल में आपको उपाय बताएं हैं। और हमें अच्छे-अच्छे कमेंट भी आए थे कि आपके आर्टिकल्स में जो उपाय बताएं उस से हमें बहुत फायदा भी हुआ है। तो थोड़ा हमें अच्छा लगा कि हमारे आर्टिकल से किसी को फायदा होता है। तो चलिए ज्यादा कुछ ना बोलते हुए अपना आज का आर्टिकल शुरू करते हैं काले घेरे हटाने क्रीम।

काले घेरे हटाने क्रीम हिंदी

दोस्तों काले घेरे हटाने क्रीम के लिए सबसे बेस्ट क्रीम है StBotanica Pure Radiance Under Eye Cream. दोस्तों यह क्रीम सिर्फ काले घेरे हटाने का काम ही नहीं करती बल्कि इस क्रीम की मदद से Wrinkles और Bags भी हटा सकते है। इस क्रीम के बारे में बताने से पहले मैं आपको बता दु कि इस क्रीम को 4.5 की रेटिंग है। और आपको यह क्रीम Amazon से आसानी से मिल जाती है। जो लोवर बजट में है 750/_ के आसपास यह क्रीम मिल जाती है।

दोस्तो अब हम बात करते है इस क्रीम के बारे में। दोस्तों यह क्रीम डार्क सर्कल्स Wrinkes Bags काले घेरे हटाने के लिए काम आती है। बहुत से लोगों को प्रॉब्लम होती है कि जब वे नींद से उठते हैं तो उनकी आंखें सूजी हुई होती है और किसी किसी की आंखों के नीचे का हिस्सा बहुत काला हो जाता है। तो उसके लिए इस क्रीम का उपयोग बोहत ही अच्छा माना जाता है। यह क्रीम काले घेरे हटाने के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित है। इस क्रीम के ऊपर यूट्यूब पर कहीं वीडियो बन चुके हैं। आप चाहो तो उसका रिव्यू देख सकते हैं। अब हम बात करते हैं कि इस क्रीम में ऐसे क्या क्या गुण होते हैं जिसकी मदद से आप को फायदा हो सके।

इस क्रीम में बोहत सारे गुण है जो आपके डार्क सर्कल्स को अच्छे से हटा सकते है। जैसे कि इस क्रीम में विटामिन्स है और Almond Oil है मिल्क प्रोटीन है जो आपके डार्क सर्कल्स के लिए बोहत फायदेमंद होता हैं। इस क्रीम में विटामिन "C" है जो आपके चेहरे को ब्राइट बना देता है आपके आँखो के नीचे काले धब्बे को हटाने में काफी लाभदायक सिद्ध होता है। आपके आंखों के नीचे वाली स्किन जो होती है वह बहुत ही ज्यादा पतली होती है तो उसके लिए स्किन का उपयोग काफी गुणकारी होता है।

आपको सबसे पहले अपने चेहरे को साफ करना है अपने चेहरे को अच्छे से धो देना है। उसके बाद आपको इस क्रीम को अपने आँखो के नीचे जहाँ पर डार्क सर्कल्स है वहाँ पर थोड़ी देर मसाज करना है। ऐसा करने से आपको अपने आंखों के नीचे जो कालापन है उससे थोड़े ही समय मे छुटकारा मिल जाएगा। दोस्तों यह सारी बातें हुई इस क्रीम के बारे में। अब हम बात करते हैं कुछ आयुर्वेदिक घरेलू उपाय और हमारे कुछ ऐसे आर्टिकल्स जिनकी वजह से बहुत से लोगों को फायदा मिला है। और उनको मनचाहा रिजल्ट भी मिला है। तो उन आर्टिकल्स के बारे में अब मैं आपको लिंक्स देता हूँ। 

तो दोस्तों यह तो हमारा आज का आर्टिकल काले घेरे हटाने क्रीम के बारे में। दोस्तों यदि आपको काले घेरे हटाने क्रीम के इस आर्टिकल के बारे में कुछ पूछना हो या कुछ दिक्कत हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। हम आपके कमेंट का जवाब 24 घंटे के भीतर देंगे। हमारा आज का आर्टिकल काले घेरे हटाने क्रीम को पढ़ने के लिए आपका फिर से एक बार धन्यवाद। दोस्तों यदि अगर आप स्टेटस, मोटिवेशनल वीडियो, सुविचार, हिंदी पोएट्री, लव स्टेटस, एटीट्यूड स्टेटस इस तरह के वीडियो देखना पसंद करते हैं तो आप हमारे YouTube चैनल को सब्सक्राइब कर लीजिए। हमने हमारे YouTube चैनल की लिंक इस आर्टिकल के अंत में दे दी है। हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें धन्यवाद।

(हमारे यूटुब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करे)

जय हिंद।


Wednesday, November 6, 2019

Green Tea Peene Ke Fayde

Green Tea Peene Ke Fayde

Green Tea Peene Ke Fayde

Green Tea Peene Ke Fayde, नमस्कार दोस्तो मैं अमित स्वागत करता हु आपका mygapshup में। दोस्तों आज हम बात करेंगे Green Tea Peene Ke Fayde क्या होते हैं। वैसे दोस्तों देखा जाए तो आपको इंटरनेट पर कई सारे आर्टिकल ऐसे मिलेंगे जिस में लिखा होगा कि, ग्रीन टी पीने के बहुत सारे नुकसान भी हो सकते हैं। मैं उन को गलत तो नहीं कहूंगा, लेकिन अगर हम लोग ग्रीन टी का सेवन सही प्रकार से करें तो इसका कोई भी नुकसान हमारे शरीर को नहीं होता। तो आज हम आपको Green Tea Peene Ke Fayde बताएंगे। और इसका सेवन कैसे करना है कब करना है यह भी हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे। 

वैसे तो दोस्तों आजकल कई सारे लोग इंटरनेट पर ग्रीन टी से जुड़े कई सारे टॉपिक सर्च करते है। जैसे की green tea peene ke fayde, green tea banane ka tarika, green tea ke side effects in hindi, lipton green tea ke fayde, green tea weight loss recipe in hindi, green tea side effects, green tea ingredients, green tea weight loss, how much green tea should i drink, how to drink green tea इस तरह के विषय को सर्च करते हैं। ताकि उनको Green Tea Peene Ke Fayde क्या होते है उसकी जानकारी उनको मिले।

यहां पर मैं आपको एक महत्वपूर्ण बात बताना चाहता हूं। हम में से कई लोगों ने देखा होगा टीवी पर Green tea की जाहिरात आती रहती हैं। तो उस जाहिरात में बताया जाता है, कि Green Tea Peene Ke Fayde क्या होते है और आपको इस से कितना लाभ हो सकता है। तो कई लोग क्या करते हैं, जाहिरात को देख कर वो ग्रीन टी पीना शुरू कर देते हैं। लेकिन कुछ दिन बाद उनको फर्क नहीं दिखाई देता है, तो वो लोग बीच में ही ग्रीन टी पीना छोड़ देते है। कुछ लोग तो ऐसे भी है जिन्हें ग्रीन टी का टेस्ट ही पसंद नहीं होता है इसलिए वो ग्रीन टी पीना छोड़ देते हैं। 

तो यहां पर मैं आपको इतना कहना चाहूंगा कि आपको ऐसा नहीं करना है। अगर आप ग्रीन टी पीना बीच मे ही छोड़ देते है तो आपको कोई भी असर दिखाई नहीं देगा। तो चलिए अभी green tea के बारे में और ज्यादा जानकारी हम आपको बताते हैं, यह ग्रीन टी क्या है, कहां से आई है, कैसे बनती है, इसका क्या फायदा होता है, इसका सेवन कैसे किया जाता है यह सब मैं आपको इस आर्टिकल में बताऊंगा। सबसे पहले तो हम जान लेते हैं कि ग्रीन टी क्या है।

ग्रीन टी क्या है - What Is Green Tea In Hindi

दोस्तो चाइना में और एशिया में एक प्लांट पाया जाता है जिसका नाम है "Camellia"। और Camellia इस प्लांट की जो पत्तियां होती है वो होती है ग्रीन टी। अब इसका प्रोसेस क्या होता है यह मैं आपको बताता हूं। पहले Camellia जो प्लांट है उस के पत्तियों को तोड़ा जाता है।  फिर उन पत्तियों को स्पिन दिया जाता है और उनको या तो उबाला जाता है या तो फ्राई किया जाता है। और उसके बाद उनको सूखने के लिए रख दिया जाता है। और फिर उन सुखी हुई पत्तियों को बैग्स में भर दिया जाता है। बैग्स में मतलब की ग्रीन टी के जो छोटे छोटे बैग्स होते है उनमें उसे भर दिया जाता है। तो यह सारा प्रोसेस होता है ग्रीन टी का। तो अभी मैं आपको Green Tea Peene Ke Fayde बताता हूं।

ग्रीन टी पीने के फायदे - Benefits Of Green Tea In Hindi


  1. ग्रीन टी पीने का सबसे अच्छा फायदा जो होता है वो कैंसर के लिए बोहत ही ज्यादा लाभदायक होता है। जिन लोगो को डायबिटीज होती है, उनके लिए ग्रीन टी एक बोहत अच्छा आयुर्वेदिक वरदान माना जाता है।
  2. ग्रीन टी ब्लड प्रेशर के लिए काफी फायदेमंद साबित होता हैं। ग्रीन टी से आप कई सारी बीमारियों से दूर रह सकते है।
  3. ग्रीन टी सभी प्रकार के कैंसर के लिए फायदेमंद साबित होता हैं। जैसे कि हार्ट के लिए या फिर स्किन कैंसर और ट्यूमर के लिए इस तरह से ये काफी फायदेमंद होती है।
  4. दोस्तो अगर आप नियमित रूप से ग्रीन टी का सेवन करे तो यह आपके पेट के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होती है।
  5. यदि आप ग्रीन टी का नियमित रूप से सेवन करते है तो यह आपके दिमाग के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होता हैं।
  6. ग्रीन टी बालों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। और ग्रीन टी वजन घटाने में भी बोहत सहायता प्रदान करता है। दोस्तो यह थे ग्रीन टी के फायदे अब हम आपको बताते है कि ग्रीन टी कैसे बनाए?


ग्रीन टी कैसे बनाये इन हिंदी


  1. सबसे पहले आप एक कप पानी को उबाल लें। फिर पानी में ग्रीन टी की पत्ती या टी बैग को पानी मे डाल दें।
  2. आपको एक कप के लिए एक चम्मच ग्रीन टी की पत्ती या एक ग्रीन टी का बैग डालें। फिर उबले हुए पानी को कप में डालें। एक बार चाय को अच्छे से हिला लें।
  3. फिर कम से कम दो मिनट तक चाय के कप को आप ढक दीजिए। दो मिनट से ज़्यादा रखने के बाद चाय कड़वी हो सकती है। इसके बाद टी बैग को निकाल दें।


ग्रीन टी पीने का सही समय - How To Drink green Tea

  1. कुछ लोग सुबह सबसे पहले ग्रीन टी लेते है तो सुबह सुबह ग्रीन टी न ले। और नाश्ते से पहले भी ग्रीन टी को ना लें।
  2. नाश्ते करने के बाद और दोपहर के भोजन करने के एक घंटे बाद ग्रीन टी का सेवन करें।
  3. ग्रीन टी का देर रात में सेवन ना करे क्योंकि इसमें सम्मिलित कैफीन आपके अनिद्रा का मुख्य कारण बन सकती है।
  4. यदि आप व्यायाम करते है, तो व्यायाम करने के आधे घंटे पहले ग्रीन टी का सेवन करे इससे आपको बोहत लाभ पोहचेगा।
तो दोस्तो आपको हमारा आज का "Green Tea Peene Ke Fayde" यह विषय कैसा लगा यह हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा। और अभी तक आपने हमारे ब्लॉग mygapshup.com को सब्सक्राइब नही किया है तो अभी सब्सक्राइब कर लीजिये ताकि हमारे सभी आनेवाले हर नए विषय की खबर हर नए आर्टिकल की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे। 

सब्सक्राइब करने के लिए आपके मोबाइल पर जो घंटी दिख रही है। उसको दबाकर आप हमें सब्सक्राइब कर सकते हैं। या फिर अपना ईमेल एड्रेस टाइप करके सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करके आप हमें सब्सक्राइब कर सकते हैं। तो दोस्तो "Green Tea Peene Ke Fayde" इसी के साथ मैं आपसे विदा लेता हूं फिर मिलेंगे एक नए आर्टिकल के साथ तब तक के लिए हंसते रहिये मुस्कुराते रहिये!
जय हिंद।

Tuesday, November 5, 2019

सिरदर्द का घरेलू इलाज हिंदी में

सिरदर्द का घरेलू इलाज हिंदी में


नमस्कार दोस्तों आपका एक बार फिर से स्वागत करता हूं। दोस्तो हम आज आपके लिए सिरदर्द का घरेलू इलाज लेकर आए हैं जो आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। दोस्तों वैसे देखा जाए तो आजकल की भीड़ भरी तनाव भरी दुनिया में सिर दर्द का होना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन कभी-कभी यह सिरदर्द इतना ज्यादा हो जाता है कि इंसान कोई भी काम पर नहीं पाता और उसका ध्यान बार बार सिर दर्द की और चला जाता है। इस वजह से वह इतना ज्यादा परेशान होता है कि वह मेडिकल से कोई भी Pain Killer की दवाई लेकर थोड़ी सी राहत के लिए अपने सिर के साथ खेल जाता है। लेकिन बार-बार pain killer की दवा खाना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। दोस्तों कई बार ज्यादा दवा खाने से रिएक्शन का भी खतरा हो सकता है।

डॉक्टरों का भी मानना है की ज्यादा पेन किलर की दवाई खाने से शरीर को काफी अधिकमात्रा में नुकसान हो सकता है। इसलिए आज हम आपके लिए सिरदर्द का घरेलू इलाज हिंदी में लेकर आए हैं। जो आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। दोस्तों वैसे देखा जाए तो सिर दर्द के कई प्रकार होते हैं। कहीं इंसान के दोनों आंखों के बीच में सर दर्द होता है, तो कई इंसान के राइट साइड में सिर दर्द होता है, या फिर लेफ्ट साइड में सिर दर्द होता है और तो और कई इंसान का पूरा ही सिर दर्द होने लगता है जिसके कारण उन्हें बहुत ज्यादा तकलीफ सहन करनी पड़ती है। कई बार सिर दर्द आसानी से पीछा नहीं छोड़ता वह बहुत ज्यादा देर तक दर्द होते रहता है। दोस्तों आज का हमारा विषय सिर दर्द के घरेलू इलाज शुरू करने से पहले यह जान लेते हैं कि सिर दर्द आखिर क्यों होता है और कैसे होता है इससे आपको पता चल जाएगा कि सिर दर्द होने की असली वजह क्या है और आप उन बातों का आगे से ध्यान रख सकेंगे जिसके कारण सिरदर्द होता है।

सिरदर्द होने के कारण

  • सिरदर्द होने का मुख्य कारण है ज्यादा मात्रा में नींद लेना या फिर बोहत ही कम मात्रा में नींद लेना। इंसान को कम से कम 8 घंटे के नींद की आवश्यकता होती है। इससे आपका स्वास्थ्य और मूड भी फ्रेश रहता है।
  • सिरदर्द होने का दूसरा कारण है गर्मी में अधिक व्यायाम करना। क्योंकि व्यायाम करते वक्त एनर्जी बोहत डाउन हो जाती है। और इंसान के मस्तिष्क में ग्लूकोज की मात्रा कम होती जाती है। 
  • यदि आपके दांतों में दर्द हो रहा हो तो उस वजह से भी आपके सिर में दर्द होने की संभावना अधिकमात्रा में होती है।
  • यदि किसी इंसान को चश्मा लगा हो तो उसके बदलते नम्बर के कारण भी सिरदर्द अधिकमात्रा होने लगता है।

  • कई लोग बदन दर्द या दांतो के दर्द के लिए बार बार हर बार pain killer का सेवन करते है। जिसके कारण उनके शरीर को बोहत साइड इफेक्ट्स होता है। और फिर बोहत ही ज्यादा सिरदर्द होना शुरू होता है। इसीलिए डॉक्टर के सलाह के बिना pain killer की दवाई न ले तो बेहतर होगा।
  • यदि आपने दिन भर कुछ भी नही खाया हो तो उस वजह से भी सिरदर्द होता है।
  • तान तनाव भरी इस लाइफ में इंसान बोहत ज्यादा परेशान होता है। और वो ज्यादा टेन्शन लेने लगता है, यह भी एक वजह जिसके कारण सिर में दर्द ज्यादा मात्रा में होने लगता है। और यह दर्द बढ़ता ही जाता है।
  • आजकल टेक्नोलॉजी की इस दुनिया मे कई लोग अधिक समय मोबाइल और कंप्यूटर पर बिताते है जिसके कारण उन्हें सिरदर्द का सामना करना पड़ता है। इसीलिए जरूरत हो तभी मोबाइल और कंप्यूटर का इस्तेमाल करे।
दोस्तो यह थे कुछ ऐसे कारण जिस वजह से सिर का दर्द हो सकता है। अब हम जान लेते है कि सिरदर्द का घरेलू इलाज क्या है। 

सिरदर्द को दूर कैसे करे

सबसे पहले आप कभी भी बिना डॉक्टर से पूछें pain killer की दवाई कभी न लें। इसके अलावा हम आपको सिरदर्द का घरेलू इलाज बताएंगे वो आप आजमाकर देख लीजिए। तो चलिए शुरू करते है हमारा आज का मेन विषय सिरदर्द का घरेलू इलाज।

  1. एक्यूप्रेशर टेक्निक-एक्यूप्रेशर टेक्निक से आपको चंद मिनिटों में सिर दर्द से आराम मिल जाएगा। चलिए थोड़ा विस्तार से जान लेते है एक्यूप्रेशर के बारे में। एक्यूप्रेशर से सिरदर्द को ठीक करने के लिये आपको अपने अंगुठे और तर्जनी के बीच वाली जगह पर हल्के से कुछ देर तक मसाज करना होगा। याद रखे कि इस प्रक्रिया को आपको अपने दोनों हथेलियों पर दोहराना है। आपको उंगलियों के बीच वाले जगह को गोलाकार दिशा में हल्के से दबाव डालते हुए कुछ देर तक मसाज करना है। इस टेक्निक से आप सिर्फ एक दो मिनट में ही अपने सिरदर्द राहत पा लोगे।
  2. सोंठ का पेस्ट-सूखे अदरक का पाउडर मतलब के सोंठ एक चम्मच लें, और इसे साफ पानी में मिला ले और एक पैन में रखकर सा गरम कर लें। अब आंच से हटाकर ठंडा होने के लिए रख दें, और जब यह थोड़ा सा ठंडा हो जाए (हल्का गर्म रहने दें) तो इसे अपने माथे पर लगाएं जहाँ पर आपको दर्द हो रहा हो। ऐसा करने से थोड़ी ही देर में आपके सर का दर्द गायब हो जाएगा।
  3. दालचीनी पेस्ट-दोस्तो कई बार ठंडी में तेज हवा लग जाने के कारण से भी सिरदर्द होने की संभावना होती है। ऐसी स्थिति में आपको दालचीनी में पानी मिलाकर इसका अच्छे से पेस्ट बना लेंना है और अपने माथे पर (जहाँ पर आपको दर्द हो रहा हो) इसके पेस्ट को लगाकर छोड़ दें। उसके बाद थोड़ी देर में गरम पानी से चेहरे को साफ कर ले। ऐसा करने से आपके सिरदर्द को तुरंत ही आराम मिलने लगेगा। 
दोस्तो यह थे हमारे आज के सिरदर्द का घरेलू इलाज हिंदी में। हम आशा करते है कि आपको सिरदर्द का घरेलू इलाज के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त हुई होगी। दोस्तो यदि आपको सिरदर्द का घरेलू इलाज के इस आर्टिकल के बारे में कोई भी सवाल हो तो आप हमें बेझिझक पूछ सकते है। हम आपको जितना जल्दी हो सकता है उतना जल्दी जवाब देने का प्रयास करेंगे।

दोस्तो हम आपके लिए नए नए तौर तरीकों को लाते रहते है जिससे आपको काफी फायदा हो सके। यदि आपने अभी तक हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब नही किया है तो अभी सब्सक्राइब कर ले ताकि आपको हमारे आनेवाले हर एक आर्टिकल की खबर सबसे पहले मिल सके। हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करने के लिए अपना ईमेल एड्रेस टाइप करके सब्सक्राइब बटन पर क्लिक करे।